Saturday, June 15, 2024
Homeराजनीतिराजमहल लोकसभा सीट पर इंडी गठबंधन और झामुमो प्रत्याशी सांसद बिजय हांसदा...

राजमहल लोकसभा सीट पर इंडी गठबंधन और झामुमो प्रत्याशी सांसद बिजय हांसदा के खिलाफ उनके अपने मतदाता व्यक्त कर रहे असन्तोष, जीत पर ही उठ रहे सवाल, दूसरे प्रत्याशी की मांग।

*इंडिया गठबंधन राजमहल से प्रत्याशी बदलें नही तो तीसरे मोर्चे की तलाश की होगी मजबूरी*

राजमहल लोकसभा क्षेत्र के झामुमो प्रत्याशी विजय हांसदा के प्रत्याशी घोषणा के पहले से ही पार्टी के अंदर से विरोध के स्वर फूटने लगे थे। झामुमो के ही विधायक और कद्दावर नेता लोबिन हेम्ब्रम ने खुले आम सार्वजनिक रूप से लगातार दो बार सांसद रहे विजय हांसदा का विरोध शुरू कर दिया था। घोषणा होने के बाद तो बकायदा प्रेस वार्ता कर विधायक लोबिन जी ने राजमहल से निर्दलीय चुनाव लड़ने की घोषणा कर दी।
इधर जहाँ लोबिन जी क्षेत्र में घूमकर लोगों की अपने पक्ष में नब्ज़ टटोल रहे हैं, वहीं लगातार दो बार से सांसद रहे विजय हांसदा से नाराज युवा मतदाता विभिन्न मुद्दों को ले बैठकें कर रहे हैं।
खासकर अल्पसंख्यक समुदाय के बेरोजगार युवा उनसे खासे नाराज लग रहे हैं।
इसी क्रम में रविवार को हिरणपुर प्रखंड में इकरामुल अंसारी के नेतृत्व में लिट्टीपाड़ा विधानसभा के युवाओं ने एक बैठक कर लोकसभा चुनाव के संदर्भ में चर्चा किया गया। जिसमे सभी युवाओं ने वर्तमान सांसद सह प्रत्यासी के पिछले 10 वर्षो के कार्यों पर चर्चा करते हुए कहा की सांसद ने 10 वर्षो में क्षेत्र में कोई काम नही किया है केवल टेंडर लेने का काम किया है। साथ ही मुस्लिम समाज का वोट लेने के बाद भी उन्होंने मुस्लिम समाज की हमेसा अपेक्षा ही किया है। क्षेत्र के जनता सांसद से काफी नाराज है। एवं मुस्लिम समाज अपने को ठगा हुआ महसूस कर रहा है। जिसमे लिट्टीपाड़ा विधानसभा के युवाओं ने इंडिया गठबंधन से मांग करते हुए कहा कि राजमहल लोकसभा से प्रत्यासी को बदलते हुए अन्य कोई कार्यकर्ता को टिकट दे या फिर लोबिन हेंब्रम को टिकट दें। तभी जीत निश्चित हो पाएगा। वरना राजमहल सीट का नुकसान पार्टी को होगा जो लोबिन हेंब्रम जी नही चाहता है की झारखंड मैं एक सीट लोकसभा मैं मिला है वो जो अब वो भी नही बचेगा।आज सांसद ने पूरे लोकसभा में मुस्लिमो से वोट तो लिया लेकिन मुस्लिमों के मुद्दो पर कभी बात करना उचित नहीं समझा। आज चुनाव है तो मुस्लिमों की याद आ रही है। युवाओं ने कहा कि सांसद के कोई कार्य से संतुष्ट नहीं है सांसद ने मुस्लिमो के किसी भी मुद्दे पर कभी भी लोकसभा आवाज उठाने का काम नही किया है , चाहे मोबलिंचिंग हो, उर्दू स्कूल का मामला हो, स्थानीय युवाओं को पैनम में रोजगार का मामला हो, किसी भी मुद्दे पर बात उठाना उचित नही समझा केवल निजी स्वार्थ ओर ठीकेदारी करने का काम किया है।लेकिन लोबिन हेंब्रम जी शुरू से सरकार को आईना दिखाने का काम किया साथ ही साथ उर्दू स्कूल बंद जो पड़ा है उसको लेकर पत्र भी लिखा था सरकार को।इस बैठक में समाजसेवी नजरूल इस्लाम, इकरामुल अंसारी, अबू नसर, वसीम अंसारी, मुजामिल अंसारी, मोफिज अंसारी,सेंटू सहित दर्जनों लोग उपस्थित थे।
हँलांकि संथालपरगना के तीनों सीट पर अंतिम चरण में एक जून को मतदान होना है। इस बीच प्रत्याशी, पार्टी और पूरे इंडी गठबंधन को काफी मेहनत से इन असंतोष की आवाज़ को अपने पक्ष में करना होगा।

Comment box में अपनी राय अवश्य दे....

RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments